राजस्थान के प्रमुख साहित्यकार एवं उनकी रचनाएं

राजस्थान के प्रमुख साहित्यकार एवं उनकी रचनाएं: राजस्थानी साहित्य की संपूर्ण भारतीय साहित्य में अपनी एक अलग पहचान है। राजस्थानी भाषा का प्राचीन साहित्य अपनी विशालता एवं अगाधता मे इस भाषा की गरिमा, प्रौढ़ता एवं जीवन्तता का सूचक है। भाषागत विकेंद्रीकरण की नीति ने राजस्थानी भाषाभाषी जनता में भी भाषा संबंधी चेतना पैदा कर दी है और इधर राजस्थानी में आधुनिक साहित्यिक रचनाएँ होने लगी है। राजस्थानी देवनागरी लिपि में लिखी जाती है। राजस्थानी साहित्य के निर्माणकर्ताओं को शैलीगत एवं विषयगत भिन्नताओं के कारण पाँच भागों में विभाजित किया जा सकता है- 1. जैन साहित्य, 2. चारण, साहित्य, 3. ब्राह्यण साहित्य, 4. संत साहित्य, 5. लोक साहित्य.
राजस्थान के प्रमुख साहित्यकार एवं उनकी रचनाएं:


राजस्थान में प्रजामण्डलों का इतिहास एवं अन्य जानकारी के लिए पढ़ें सम्पूर्ण नोट्स हमारी फ्री एंड्राइड एप्प राजस्थान GK हिंदी में, डाउनलोड लिंक: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.csurender.android.rajasthangk