हीरानंद कटारिया ‘द्रोणाचार्य अवार्ड’ के लिए नामित

हीरानंद कटारिया राजस्थान के पूर्व इंटरनेशनल कबड्‌डी प्लेयर और कोच है। राजस्थान के पूर्व इंटरनेशनल कबड्डी प्लेयर और कोच हीरानंद कटारिया के नाम की सिफारिश द्रोणाचार्य अवार्ड के लिए की गई है। इसके अलावा एथलेटिक्स कोच दिवंगत रामकृष्णन गांधी और रियो पैरालिंपिक स्वर्ण पदक विजेता टी. मरियप्पन के कोच सत्यनारायण के नाम की अनुशंसा भी द्रोणाचार्य अवार्ड के लिए की गई है। खिलाड़ी और कोच के रूप में सफल रहे कटारिया करीब तीन दशकों से कबड्डी से जुड़े हुए हैं। 1995 के सैफ खेलों की स्वर्ण पदक विजेता टीम के सदस्य रह चुके कटारिया प्रदेश के महाराणा प्रताप और गुरू वशिष्ठ पुरस्कारों से भी सम्मानित हो चुके हैं।
कटारिया ने 1997 से कोचिंग का जिम्मा संभाला और अब तक पांच अंतरराष्ट्रीय महिला खिलाड़ी तैयार कर चुके हैं। कटारिया से कोचिंग लेने वाली शालिनी पाठक, सुमित्रा शर्मा और मंजु भारतीय टीमों में जगह बना चुकी हैं और जूनियर वर्ग में गरिमा गौड़ और माया सहारण हाल ही में भारतीय टीम के शिविर में हिस्सा लेकर लौटी है। कटारिया पिछले 15 सालों से नि:शुल्क प्रशिक्षण दे रहे हैं। राजस्थान वुशु संघ के अध्यक्ष कटारिया का परिवार खेलों से जुड़ा हुआ है। उनके पुत्र लवमीत कटारिया अंतरराष्ट्रीय बॉलीबाल खिलाड़ी है।

राजस्थान सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी 251

राजस्थान सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी 251: Rajasthan General Knowledge Sample Question Paper with Collection 10 Question for upcoming RAS, Rajasthan Police, REET, SI, Constable, Patwari and other state exams under GK Quiz in Rajasthan GK Sample Papers. You Can Download Rajasthan GK Free Mobile App for daily current affairs, Rajasthan GK, GK Notes, Objective Quiz at RAJASTHAN GK Mobile App from various examinations of Rajasthan Govt. and central Govt Examinations.

For More Rajasthan GK Follow us on  
Rajasthan GK ANDROID App: http://tinyurl.com/RajasthanGK
INDIA GK Note, Exam Solved Papers: http://tinyurl.com/IndiaGK 

राजस्थान सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी 251:
राजस्थान में सरसों तेल उद्योग का प्रमुख केंद्र कहाँ स्थित है?
A. भरतपुर
B. अलवर
C. जयपुर
D. टोंक
Answer: B 

सहरिया जनजाति की बस्ती क्या कहलाती है?
A. सहराना
B. कू
C. फलां
D. ग्राम
Answer: A

वह वाद्य यंत्र कौन-सा है, जिसका निर्माण सींग से किया जाता है?
A. ढोल
B. डमरू
C. डैरू
D. सिंगी
Answer: D

गैर नृत्य का संबंध किस जाति से है?
A. कालबेलिया
B. भील
C. गरासिया
D. बनजारा
Answer: B 

गीदड़ नृत्य, राजस्थान के किस क्षेत्र का नृत्य है?
A. शेखावाटी क्षेत्र
B. बांगड़ क्षेत्र
C. मेवाड़ क्षेत्र
D. हाड़ौती क्षेत्र
Answer: A 

राजस्थान के किस ज़िले में ऊन सेक्टर हेतु स्पेशल इकोनोमिक जोन की स्थापना की गयी है?
A. जोधपुर
B. बीकानेर
C. जैसलमेर
D. चूरू
Answer: B

राजस्थान में संगमरमर की सबसे अधिक प्रोसेसिंग इकाइयाँ किस ज़िले में हैं?
A. नागौर
B. राजसमंद
C. उदयपुर
D. अजमेर
Answer: B 

राजस्थान में सीमेन्ट कारख़ाने की स्थापना सर्वप्रथम किस स्थान पर की गई?
A. मोडक
B. लाखेरी
C. निम्बाहेड़ा
D. चित्तौड़गढ़
Answer: B

केबिल बनाने का कारख़ाना राजस्थान में कहाँ स्थित है?
A. जयपुर
B. कोटा
C. ब्यावर
D. अलवर
Answer: B 

राजस्थान में कीटनाशी रसायनों का निर्माण कहाँ पर होता है?
A. झुंझुनू
B. अलवर
C. चित्तौड़गढ़
D. उदयपुर

Answer: D 

For More Rajasthan GK Quiz, Current Affairs with Explanation, Download "RAJASTHAN GK" Free Mobile App: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.csurender.android.rajasthangk

Rajasthan Solar Power Capacity in July 2017

Rajasthan Solar Power / Energy  Capacity in July 2017 is 2022 MW in July 2017: The cumulative Solar Energy capacity installed, as on 31.07.2017, is 13652 MW while the same at the end of 2014-15 was 3743.97 MW. This was stated by Shri Piyush Goyal, Minister of State (IC) for Power, Coal & New and Renewable Energy and Mines in a written reply to a question in the Lok Sabha on 10th August 2017. 
The States that crossed the solar installed capacity of 1 GW, as on 31.07.2017 are:
  1. Andhra Pradesh(2048 MW)
  2. Rajasthan(2022 MW)
  3. Tamil Nadu(1697 MW)
  4. Telangana (1609 MW)
  5. Gujarat(1262 MW)
  6. Karnataka(1260 MW)
  7. Madhya Pradesh(1116 MW)

Sanwar Lal Jat passed away

Former Union minister and BJP parliamentarian Sanwar Lal Jat died at the All India Institute of Medical Sciences (AIIMS) in New Delhi early on 9th Aug 2017. He was 62. The Rajasthan politician, who had served as the minister of state for water resources in the Narendra Modi government, breathed his last at 6.15 am after being in coma for over a week. A five-time MLA, Jat was a mass leader and a close confidant of Rajasthan chief minister Vasundhara Raje.  
Born in a peasant’s family at Ajmer’s Gopalpura village, the politician made his Lok Sabha debut in 2014 by defeating Rajasthan Congress president Sachin Pilot from Ajmer.  The chairman of the state farmers’ commission, he frequently raised rural issues - mostly related to agriculture - in the Rajasthan assembly. Jat was a farmers’ leader who had made an immense contribution to the state as MLA, MP and minister.

भामाशाह सहयोग योजना

मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे और संयुक्त अरब अमीरात के संस्कृति, युवा एवं सामुदायिक विकास मंत्री शेख नहायन बिन मुबारक अल नहायन ने फेस्टिवल ऑफ एजुकेशन राजस्थान के अवसर पर 5 अगस्त को आयोजित रात्रि भोज के दौरान राज्य सरकार के उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग द्वारा संचालित भामाशाह सहयोग योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने इसके लिए उच्च शिक्षा दृष्टि नाम से एक वेब पोर्टल लॉन्च किया। यह पोर्टल राज्य में उच्च एवं तकनीकी शिक्षा के विकास में विभिन्न संस्थाओं और भामाशाहों द्वारा सहयोग का प्लेटफार्म बनेगा। श्रीमती राजे ने इस दौरान हैलो इंग्लिश नामक ऎप पर आधारित अंग्रेजी भाषा सीखने के लिए तीन माह के कार्यक्रम का भी शुभारंभ किया। उन्होेंने उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग द्वारा प्रकाशित एक स्मारिका का भी विमोचन किया। 

Khel Ratna Award to Devendra Jhajharia, Sardar Singh

Two-time Paralympic gold-medallist Devendra Jhajharia on 3rd August became the first paralympian to be recommended for the country’s highest sporting honour - the Rajiv Gandhi Khel Ratna award along with former hockey captain Sardar Singh. The final call on this would be taken by the Sports Ministry. Besides, the awards selection committee has recommended 17 names for the Arjuna award.
The 36-year-old Devendra Jhajharia, who is the first Indian to win two Paralympic gold medals, was the first choice of the awards selection committee headed by Justice (Retd) C K Thakkar. Jhajharia had won his medals in the javelin throw event.
The committee has picked 31-year-old midfielder Sardar Singh as its second nominee for the top honour and has suggested that both Jhajharia and Sardar be considered for the award jointly.

Hussain Sayeeduddin Dagar passed away

Ustad Hussain Sayeeduddin Dagar (78), maestro and custodian of the venerable Dhrupad tradition of Hindustani classical music, has passed away in Pune, Maharashtra on July 30, 2017. He was known affectionately to his legions of disciples and admirers as ‘Saeed Bhai’. 
He was born in Alwar in Rajasthan in 1939 and was a part of the Dagar family of musicians. He represented the 19th generation of Dagar Tradition. Dhrupad – a Sanskrit portmanteau of Dhruva (immovable) and Pad (verse) has its roots since ancient times, mentioned as early as the 3rd Century B.C. in the Natyashastra.