GRAM 2017 in Udaipur from 7 to 9 November 2017

GRAM 2017 in Udaipur: The Divisional-level Global Rajasthan Agritech Meet (GRAM) will be held in Udaipur from 7 to 9 November. To be organized at the Maharana Pratap University of Agriculture & Technology the mega agri-event will have Video Arena, Special Pavilion for Agri Start-ups, Smart Farm, Conferences, Exhibition, ‘Jajam Chaupals’, among others. This was informed by Principal Secretary Agriculture, Government of Rajasthan, Ms. Neelkamal Darbari. The ‘GRAM’ Udaipur will be jointly organised by the Government of Rajasthan and Federation of Indian Chambers of Commerce and Industries (FICCI). Ms. Darbari further elaborated that the objective of the ‘GRAM’ at Udaipur, as in the ‘GRAMs’ held in Jaipur and Kota, is to empower farmers with latest technical know-how and best practices and provide a platform for showcasing Agri-Innovations. The event will also be an appropriate platform for entrepreneurial networking as well as initiating knowledge and technology transfer. 
Principal Secretary Agriculture also informed that the Smart Farm will be spread over 1200 sq. mtrs, Exhibition Area over 4000 sq. mtrs, Outdoor space over 3200 sq. Mtrs. A special highlight of the 3-day Agritech event will be a ‘Video Arena’ set-up for international players to showcase industry's best practices, production set-ups and manufacturing capabilities using videos and pictures. A special pavilion for Agri Start-Ups will also be set-up to facilitate incubation support to Agri-entrepreneurs and early-age tech start-ups by providing access to expert vision, knowledge and varied resources. Experts and well-known personas in the field of Agriculture, Horticulture and Animal Husbandry will be invited to speak at the event.  The Udaipur Division is the largest producer of Maize, Soybean, Paddy, Pigeon Pea in agricultural crops. It is also one of the largest contributors of major fruit crops like Mango and Custard Apple. Isabgol is also emerging as a major medicinal crop here. Interestingly the cropping intensity of the Division is 154% as compared to State’s 138%. The Division is also bestowed with a strong agricultural output and rich produce. It is also well-positioned for investment in agro-processing and has an effective highway, train and air connectivity. 
About ‘Global Rajasthan Agritech Meet 2017, Udaipur’ (GRAM) 
Global Rajasthan Agritech Meet (GRAM) will be held from 7 to 9 November at Maharana Pratap University of Agriculture & Technology in Udaipur. The GRAM Udaipur will be jointly organised by the Government of Rajasthan and Federation of Indian Chambers of Commerce and Industries (FICCI). Government of Rajasthan looks forward to replicate GRAM 2017 Kota’s accomplishment at Udaipur in Rajasthan. One of the core objectives of ‘GRAM’ Udaipur would be to empower the farmers with latest technical know-how and best practices while providing them with new business opportunities and avenues for growth and agriculture and allied ecosystems. The event will bring all stakeholders- farmers from in and around Udaipur, agribusiness companies, academicians, progressive farmers and farmer groups, financial institutions, animal husbandry experts and policy makers. 

राजस्थान विधानसभा देश की प्रथम आनलाइन प्रस्ताव लेने वाली विधानसभा बनी

राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष श्री कैलाश मेघवाल ने 13 अक्टूबर को विधानसभा स्थित अपने वैश्म में राजस्थान विधानसभा के प्रक्रिया तथा कार्य संचालन संबंधी नियमों के अन्तर्गत विधायकों द्वारा प्राप्त ध्यान आकर्षण प्रस्तावों को राज्य सरकार को आनलाइन से भिजवाये जाने की लेपटाप का बटन दबाकर शुरूआत की।  विधानसभा सचिव श्री पृथ्वी राज ने बताया कि 14वीं विधानसभा के नवें सत्र से विधायकों से राजस्थान विधानसभा के प्रक्रिया एवं कार्य संचालन संबंधी नियमावली के नियम 131 के अन्तर्गत ध्यानाकर्षण प्रस्ताव, नियम 50 के अन्तर्गत स्थगन प्रस्ताव, नियम 295 के अन्तर्गत विशेष उल्लेख की सूचनाऎं एवं नियम 119 एवं 127 के अन्तर्गत अविलम्बनीय लोक महत्व के विषयों संबंधी प्रस्तावों को आनलाइन विधानसभा में भेजे जाने तथा संबंधित विभाग को भेजने एवं उनकी तथ्यात्मक सूचना राज्य सरकार से प्राप्त करने की प्रक्रिया को राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र (एन आई सी ) के सहयोग से आनलाइन करने की प्रक्रिया में राजस्थान विधानसभा देश की पहली विधानसभा बन गई है ।
एन.आई.सी की राज्य सूचना अधिकारी श्रीमती इंदु गुप्ता ने बताया कि पोर्टल के संबंध में राज्य सरकार के विभागीय अधिकारियों और कार्मिकों को तकनीकी सहायता उपलब्ध कराने हेतु राजस्थान विधानसभा द्वारा शासन सचिवालय में एक हैल्प डेस्क भी स्थापित की गयी है जिसका SecLAN IP 24557 है। ऑनलाईन प्रस्ताव सूचना प्रणाली के लागू होने से विभागों द्वारा प्रस्तावों के जवाब प्रेषित करना अधिक सुविधाजनक हो जायेगा। इससे समय, कागज व श्रम सभी की बचत होगी। उल्लेखनीय है कि राजस्थान विधान सभा देश की अग्रणी विधान सभाओं मे से है, जहां लगभग सभी विधायी कार्य ऑन लाईन किये जा रहे है। 

Rajasthan Current Affairs October 2017

Rajasthan Current Affairs for October 2017Rajasthan Current Affairs General Knowledge(GK) Multiple Choice Questions (MCQ) for RAS, IAS/ Bank and other competitive examinations across Rajasthan.  As part of Current Affairs , We will daily provides you Question of Current Affairs, India GK and World GK during whole month of October 2017 which will help you in various rajasthan state level examinations like RAS, REET, Rajasthan Patwari, Rajasthan Police and other state level examinations. For Current Affairs Live Updates, Rajasthan GK, Download Free Mobile App:
"राजस्थान GK" फ्री Android Apptinyurl.com/RajasthanGK   

Rajasthan Current Affairs for October 2017
:  
संयुक्त राष्ट्र महासभा के लिए राजस्थान के किस सांसद को मनोनीत किया गया है? A. अर्जुनलाल मीणा B. संतोष अहलावत C. गजेंद्र सिंह शेखावत D. देवजी पटेल Answer: B विस्तार : झुंझुनू से सांसद श्रीमती संतोष अहलावत को 72वें संयुक्त राष्ट्र महासभा के अधिवेशन में भारत का प्रतिनिधित्व करने का जिम्मा सौपा गया है। वे 11 अक्टूबर से 16 अक्टूबर 2017 तक अमेरिका में होने वाले अधिवेशन में भाग लेगी...Check Detail Explanation at RAJASTHAN GK App:  tinyurl.com/RajasthanGK आसियान इंडिया म्यूज़िक फेस्टिवल 2017 के ‘द म्यूजिक स्टेज’ का आयोजन कहाँ हुआ? A. बीकानेर B. उदयपुर C. अजमेर D. जयपुर Answer: D विस्तार : जवाहर कला केन्द्र में 9 अक्टूबर को आसियान इंडिया म्यूज़िक फेस्टिवल की शुरूआत ‘द म्यूजिक स्टेज’ की शुरूआत हुई। यह फेस्टिवल आसियान एवं भारत के परस्पर संवाद सम्बंधों की 25वीं वर्षगांठ का सांस्कृतिक उत्सव है और दोनों के मध्य के सांस्कृतिक आदान-प्रदान को और अधिक बढ़ावा देने के लिए इस फेस्टिवल को डिजाइन किया गया है...Check Detail Explanation at RAJASTHAN GK App:  tinyurl.com/RajasthanGK स्वामी केशवानन्द राष्ट्रीय कृषि पत्रकारिता पुरस्कार से किसे अक्टूबर 2017 में सम्मानित किया गया है? A. ओ.पी. यादव B. मनीष चौधरी C. रंजन वर्मा D. मुकेश मूण्डवाड़िया Answer: A विस्तार : जयपुर निवासी एवं डीडी न्यूज नई दिल्ली में संपादक के पद पर कार्यरत डॉं. ओ.पी. यादव को बीकानेर में आयोजित एक राष्ट्रीय कृषि प्रौद्योगिकी सम्मेलन में ‘स्वामी केशवानन्द राष्ट्रीय कृषि पत्रकारिता पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया। डॉं. यादव को यह पुरस्कार स्वामी केशवानन्द राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र होने के साथ कृषि क्षेत्र में पत्रकारिता के जरिए उत्कृष्ट मापदंड करने के लिए दिया गया है...Check Detail Explanation at RAJASTHAN GK App:  tinyurl.com/RajasthanGK राजस्थान के किस शहर में 11 अक्टूबर को एयरपोर्ट का उद्घाटन किया गया? A. किशनगढ़ B. करौली C. भीलवाड़ा D. राजसमंद Answer: A विस्तार : मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे एवं केन्द्रीय नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री श्री जयंत सिन्हा ने आज, 11 अक्टूबर 2017 को अजमेर जिले में किशनगढ़ एयरपोर्ट का उद्घाटन किया। यह राजस्थान का उल्लेखनीय है कि किशनगढ़ एयरपोर्ट की नींव तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने वर्ष 2013 में की थी...Check Detail Explanation at RAJASTHAN GK App:  tinyurl.com/RajasthanGK ग्राम 2017 का आयोजन 7 से 9 नवंबर तक कहाँ होगा? A. जयपुर B. कोटा C. उदयपुर D. जोधपुर Answer: C विस्तार : ग्राम 2017 के दूसरे संस्करण का आयोजन आगामी 7 से 9 नवंबर तक उदयपुर के महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्ववविद्यालय के प्रांगण में 7 से 9 नवंबर 2017 तक होगा। ‘ग्राम‘ (ग्लोबल राजस्थान एग्रीटेक मीट) के आयोजन के लिए राज्य सरकार ने फैडरेशन ऑफ इंडियन चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) के साथ ‘एमओयू‘ किया है। ...Check Detail Explanation at RAJASTHAN GK App:  tinyurl.com/RajasthanGK

Rajasthan Tourism Win National Tourism Awards

President of India, Shri Ram Nath Kovind has awarded the highly popular 'Jaane Kya Dikh Jaaye' television ad campaign of Rajasthan Tourism with National Tourism Award under the category of “Best Tourism Film” at National Tourism Awards 2015-16 held on 27th October 2017 at Vigyan Bhawan, New Delhi. The award was received by Minister of State for Tourism, Government of Rajasthan Smt. Krishnendra Kaur (Deepa)  and Additional Chief Secretary, Department of Tourism, Rajasthan, Shri Nihal Chand Goel.
List of Awards to Rajasthan in National Tourism Awards:

  1. 'Jaane Kya Dikh Jaaye' television ad campaign of Rajasthan Tourism with National Tourism Award under the category of “Best Tourism Film” at National Tourism Awards 2015-16
  2. Rajasthan state was also conferred another prestigious National Tourism Award under “Best State – Comprehensive Development of Tourism” for standing runner-up in the category.
  3. Rajasthan wins three another prestigious tourism awards in hotel category during national tourism award function at Vigyan Bhawan. 
    1. The Oberoi Udai Vilas Hotel, Udaipur get award in the category of best five star deluxe hotels. 
    2. Fataya Prakash Palace Hotel, Udaipur wins award in grand category.
    3. Samod Haveli Gangapol, Jaipur gets award in basic category of hotels.   

About National Tourism Awards: Ministry of Tourism, Government of India, annually presents National Tourism Awards to various segments of the travel, tourism and hospitality industry. These awards are being given since the early 1990s and are presented to State Governments / Union Territories, classified hotels, heritage hotels, approved travel agents, tour operators and tourist transport operators, individuals and other private organizations in recognition of their performance in their respective fields and also to encourage healthy competition with an aim to promote tourism. The National Tourism Awards have over the years emerged as a prestigious recognition of achievements in the travel, tourism and hospitality sectors.

VASTRA 2017 in Jaipur

Textiles Minister Smt. Smriti Zubin Irani inaugurates VASTRA 2017 in Jaipur, Rajasthan on 21st September 2017. Speaking about the success of the mega textiles event Textiles India 2017, the Minister said that Textiles India was an effort not only of the Government; she said that it was an effort of the entire industry that wanted to tell the world in one voice, “Come, Make in India”. She added that nothing better says Make in India than Textiles in India. The Minister said this after inaugurating the 6th Edition of the 4-day international textiles and apparel fair VASTRA 2017, in Jaipur on 21st September 2017.
The Minister said that this confidence in the textiles sector is bolstered by the recent high growth of FDI in the textiles sector. Recounting the success of the Integrated Skill Development Scheme, Smt. Irani also said that the success rate of placements of skilled workforce in textiles sector is now over 70%. She added that the Government continues to engage with the trainees even after placement to ensure that individuals are able to sustain work in their work chain for at least 6 months. The Textiles Minister expressed satisfaction regarding the inclusion of design and other workshops in VASTRA 2017. She added that the beauty and variety of the designs that we have had historically in our nation is something that the Indian textiles sector can and does leverage internationally.
Smt. Irani said that in the growth of the textiles sector lies the growth of India and the growth of job opportunities. She said that the textiles sector provides direct employment to over 45 million people and indirectly impacts close to another 20 million households. She said that the Government of India has brought in Rs. 6,000 crore package specially aimed at providing support to the textiles, apparel and made-ups sectors.

राजस्थान के प्रमुख जौहर, साका Rajasthan Jauhar, Saka

राजस्थान के प्रमुख जौहर, साका (Jauhar, Saka in Rajasthan) : राजस्थान के इतिहास में "जौहर तथा साकों" का एक विशिष्ठ स्थान है। यहाँ पर युद्ध में वीर सैनिकों एवं उनकी स्त्रियों ने शत्रु की पराधीनता को स्वीकार करने की बजाए सहर्ष मृत्यु का चुनते हुए जान न्यौछावर की है। जौहर व साका उस स्थिति में किए गए जब शत्रु को घेरा डाले बहुत अधिक दिन हो गए या युद्ध में हार निश्चय हो या शत्रु ने युद्ध में विजय प्राप्त कर ली हो। जौहर की घटनाएँ मुख्यत: राजस्थान में मुगल शासकों के आक्रमण एवं युद्ध में हराने के पश्चात उनके द्वारा लूट-पाट एवं स्त्रियों के शीलभंग के कारण होती थी।
जौहर किसे कहते हैं: युद्ध के बाद महिलाओं पर होने वाले अत्याचारों व व्यभिचारों से बचने तथा अपनी पवित्रता कायम रखने हेतु महिलाएं अपने कुल देवी-देवताओं की पूजा करके जलती चिताओं में कूद पड़ती थी। वीरांगना महिलाओं का यह आत्म बलिदान का कृत्य जौहर के नाम इतिहास में जाना जाता है। जौहर कर लेने का कारण युद्ध में हार होने पर शत्रु राजा द्वारा हरण किये जाने का भय होता था।
साका किसे कहते हैं: युद्ध के दौरान जब युद्ध में हार निश्चित हो जाती थी एवं महिलाओं को जौहर की ज्वाला में कूदने का निश्चय करते देख पुरूष केशरिया वस्त्र धारण कर मरने मारने के निश्चय के साथ युद्ध में दुश्मन सेना पर टूट पड़ते थे कि या तो विजयी होकर लोटेंगे अन्यथा विजय की कामना हृदय में लिए अन्तिम दम तक शौर्यपूर्ण युद्ध करते हुए दुश्मन सेना का ज्यादा से ज्यादा नाश करेंगे। इसे साका कहा जाता है।

राजस्थान के प्रमुख जौहर, साका (Jauhar, Saka in Rajasthan)
  • चित्तौड़गढ़ के 3 साके
    1. प्रथम साका: यह सन् 1303 में राणा रतन सिंह के शासनकाल में अलाउद्दीन खिलजी के चित्तौड़ पर आक्रमण के समय हुआ था। इसमें रानी पद्मनी सहित स्त्रियों ने जौहर किया था। अलाउद्दीन की महत्वाकांक्षा और राणा रतनसिंह की अनिंद्य सुंदरी रानी पद्मिनी को पाने की लालसा हमले का कारण बनी। चित्तौड़ के दुर्ग में सबसे पहला जौहर चित्तौड़ की महारानी पद्मिनी के नेतृत्व में 16000 हजार रमणियों ने अगस्त 1303 में किया था।
    2. दूसरा साका:  यह 1534 ई. में राणा विक्रमादित्य के शासनकाल में गुजरात के सुल्तान बहादुरशाह के आक्रमण के समय हुआ था। इसमें राजमाता हाड़ी (कर्णावती) और दुर्ग की सैकड़ों वीरांगनाओं ने जौहर का अनुष्ठान कर अपने प्राणों की आहुति दी।
    3. तीसरा साका: यह 1567 में राणा उदयसिंह के शासनकाल में अकबर के आक्रमण के समय हुआ था जिसमें जयमल और पत्ता के नेतृत्व में चित्तौड़ की सेना ने मुगल सेना का जमकर मुकाबला किया और स्त्रियों ने जौहर किया था। यह साका जयमल राठौड़ और फत्ता सिसोदिया के पराक्रम और बलिदान के प्रसिद्ध है।
  • जैसलमेर के ढाई साके:
    1. प्रथम साका:  यह अलाउद्दीन खिलजी के आक्रमण के समय हुआ था। इसमें भाटी शासक रावल मूलराज, कुंवर रतनसी सहित अगणित योद्धाओं ने असिधारा तीर्थ में स्नान किया और ललनाओं ने जौहर का अनुष्ठान किया।
    2. दूसरा साका:  दूसरा साका फिरोज शाह तुगलक के शासन के शुरुआती वर्षों में हुआ। रावल, दूदा, त्रिलोकसी व अन्य भाटी सरदारों और योद्धाओं ने शत्रु सेना से लड़ते हुए वीरगति पाई और दुर्गस्थ वीरांगनाओं ने जौहर किया।
    3. तृतीय साका (आधा साका): यह घटना 1550 ईस्वी में लूणकरण के शासन काल में कंधार के शासक अमीर अली के आक्रमण के समय हुआ था। तीसरा साका अद्र्ध साका कहलाता है। कारण इसमें वीरों ने केसरिया तो किया लेकिन जौहर नहीं हुआ। अत: इसे आधा साका ही माना जाता हैं। इसलिए जैसलमेर के ढाई साके गिने जाते हैं।  
  • गागरोण (जालौर) के 2 साके
    1. प्रथम साका: 1423 ईस्वी में अचलदास खींची के शासन काल में माण्डू के सुल्तान होशंगशाह के आक्रमण के समय हुआ था। इसमें रानियों व स्त्रियों ने जौहर किया।
    2. दूसरा साका: गागरोण का दूसरा साका 1444 ईस्वी में हुआ। जब मांडू के सुल्तान महमूद खिलजी ने विशाल सेना के साथ इस दुर्ग पर आक्रमण किया एवं स्त्रियों ने जौहर किया।
  • रणथंभौर का 1 साका: यह सन् 1301 में अलाउद्दीन खिलजी के ऐतिहासिक आक्रमण के समय हुआ था। इसमें हम्मीर देव चौहान विश्वासघात के परिणामस्वरूप वीरगति को प्राप्त हुआ तथा उसकी पत्नी रंगादेवी ने जौहर किया था। इसे राजस्थान का प्रथम साका माना जाता है। 
  • जालौर का 1 साका: कान्हड़देव के शासनकाल में 1311-12 में अलाउद्दीन खिलजी के आक्रमण के समय हुआ था एवं स्त्रियों ने जौहर किया।

Alwar MP Chand Nath Yogi dies

BJP MP from Alwar and head of Rohtak’s Baba Mastnath Math, Chand Nath Yogi, passed away on 16th September 2017 while undergoing treatment in New Delhi. He was 61. The 61-year-old Mahant, who headed Baba Mastnath Matth, Rohtak, had won the Alwar seat in the 2014 parliamentary elections after defeating Congress candidate and former union minister Jitendra Singh. Mahant’s body is being taken to Rohtak and the last rites would take place at the matth around 4 pm, Alwar District BJP president Raghuveer told The Tribune.
Prime Minister Narendra Modi expressed grief over the death of the MP, who was suffering from throat cancer. Rajasthan Chief Minister Vasundhara Raje also expressed condolences to the bereaved family members, saying it is an irreparable loss to to her and the entire BJP family. Now, two Lok Sabha seats, one held by Chand Nath in Alwar and another by Sanwarlal Jat in Ajmer have fallen vacant after their death. Rajasthan sends 25 members to the Lok Sabha.