भोमट का भील आन्दोलन

भोमट का भील आन्दोलन (1918): राजस्थान भोमट का भील आन्दोलन एवं अन्य आंदोलनों के नोट्स, हमारी "Rajasthan GK" फ्री मोबाइल एप्प से भी पढ़ सकते हैं । राजस्थान सामान्य-ज्ञान नोट्स, समसामयिकी एवं प्रश्नोत्तरी।  उदाहरण के तौर पर आपके लिए "राजस्थान का भोमट का भील आन्दोलन (1918)" के नोट्स है ।
  • 1918 ई० में मेवाड़ सरकार के प्रशासनिक सुधारों के विरुद्ध भोमट के भीलों ने आन्दोलन छेड़ दिया।
  • गोविन्द गुरु ने भीलों में एकता स्थापित करने का प्रयास किया। मोतीलाल तेजावत ने भील आन्दोलन का नेतृत्व किया, जिसके कारण इस आन्दोलन ने और जोर पकड़ लिया। 
  • भीलों ने लागत तथा बेगार करने से इनकार कर दिया। सरकार ने आन्दोलन को कुचलने के लिए दमन - चक्र का सहारा लिया, किन्तु उसे सफलता नहीं मिली।  इस आन्दोलन से भीलों को अनेक सुविधाएँ प्राप्त हुई। 
  • भीलों में सर्वप्रथम मोतीलाल तेजावत ने राजनीतिक चेतना जागृत की। इसके बाद भीलों की आर्थिक स्थिति को सुधारने तथा उनके अन्ध - विश्वासों को दूर करने के लिए बनवासी संघ की स्थापना की गई।
Rajasthan GK App डाउनलोड करें एवं पढ़ें राजस्थान नोट्स, समसामयिकी एवं 10 हज़ार से अधिक प्रश्न